Saturday, September 17, 2016

मध्याह्न भोजन (MDM)

मध्याह्न भोजन (MDM)............... विद्यालय और प्रधान को लुटते सरकारी लुटेरे

सभी आदरणीय शिक्षकों को Ashutosh Amit का नमस्कार.मध्याह्न भोजन यानि बच्चे उपस्थित 400 और हाजिरी 600 की.ऐसा ही भ्रम बिहार सरकार ने आम लोगों के बीच फैलाया है.कई MDM की घटनायें बदनामी का मुख्य वजह रही है.
सारा दोष शिक्षकों पर दिया जाता है जबकि गुणवत्तापूर्ण भोजन हेतु राशनशिक्षक अपनी पीठ पर ढ़ोकर लाते है.अधिकारीयों (सरकारी लुटेरों) से कोई कुछ नहीं पूछता है.
आइये,MDM में मची लूट पर एक नज़र डालते है.........

(1) 50 kg चावल की बोरी में 40-45 kg ही चावल रहता है.कौन खाता है-मास्टर?
(2) MDM बनाने हेतु राशि निकालने में शिक्षा समिति के अध्यक्ष और सचिव को रूपए चाहिये.क्या मास्टर अपने जेब से देगा?
(3) छुटभैया नेताओं को भी हफ्ताचाहिये.
(4) विद्यालय निरीक्षण में जब अधिकारी आते है तो उन्हें समस्याओं से मतलब नहीं है और सुनना भी नहीं चाहते है.वे सिर्फ इतना देखते है कि बच्चे कितने और हाजिरी कितनी?
जाहिर है इतनी मेहनत का मेहनतनामातो चाहिये ही.
(5) MDM के वार्षिक ऑडिट हेतु फिक्स्ड रेटनिर्धारित है.आपने भी दिया होगा !
माननीय मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री महोदय,भ्रष्टाचार की असली जड़ आपलोग है.आपके लुटेरेहर महीने MDM में कड़ोरो की लुट करते हैं.
आप लोग तो यही चाहते है कि बच्चे नहीं पढ़े.क्योंकि अगर पढ़ लिया तो आपलोगों से सवाल पूछा जायेगा-आपको वोट क्यों दें?और आप लोग ऐसा नहीं चाहेंगे.

तमाम विपरीत परिस्थितियों के बाद भी हमलोग बच्चों को पढ़ाते हैं.क्या पता कोई चाणक्यकिसी चंद्रगुप्तको पैदा कर दे और वह अन्यायी राजाको उखाड़ फेंके....
इन्तजार करे.....
जय भारत,जय बिहार,जय शिक्षक.
--------------------------------------------------------------------------------
सभी शिक्षक मित्रों से अनुरोध है की मेरे What’s app नंबर 9708200702 पर अपना नाम,स्कूल का नाम और जिला मैसेज करे.इसकी जरुरत पड़ने वाली है.इसे अतिआवश्यक समझा जाये.
-------------------------------------------------------------------------------------
आशुतोष 
+2 शिक्षक 
प्रोजेक्ट कन्या +2 विद्यालय कुमारखंड,मधेपुरा (बिहार)
Mobile नंबर 7870900690
What’s app नंबर 9708200702
-------------------------------------------------------------------------------------
I Support Teachers पेज शिक्षकों को समर्पित है.शिक्षक समाज और राष्ट्र के निर्माता होते है.सभी शिक्षकों को संगठित और एकजुट करने के लिये यह पेज बनाया गया है.
कृपया इस पेज को लाइक करे.
(1) सबसे पहले I Support Teachers के इस लिंक पर क्लीक करे ,यह पेज खुल जायेगा
(2) उसके बाद इस पेज के LIKE पर क्लीक करे.

पोस्ट को शेयर/फॉरवर्ड करके अपनों तक जानकारी पहुँचावे 
अपना बहुमूल्य सुझाव भी दें और

शिक्षक बंधू friend request भेजे Ashutosh Ashutosh

हमसे जुड़े,शिक्षकों के पत्रकार पेज से जुड़े और LIKE करे


Monday, September 5, 2016

शिक्षक दिवस स्पेशल.......

शिक्षक दिवस स्पेशल.................सभी शिक्षकों को समर्पित...................
बिहार के सभी सक्षम नेताओं और अधिकारीयों के नाम एक मास्टर साहब की खुली चिट्ठी........
सरकार लगा है समस्याओं का अंबार,फिर भी हमलोग है गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने को तैयार.........

हमारे आदर्श श्री सर्वपल्ली राधा कृष्णन को नमन करते हुये सभी आदरणीय शिक्षकों कोAshutosh Amitका नमस्कार.
कहने को शिक्षक समाज और राष्ट्र के निर्माता होते है.पर यह बात बिहार में लागू नहीं होता है.

यहाँ नेताओं और अधिकारीयों के लिये शिक्षक एक राजनीतिक मोहरा है,जिसकी चाल राजनीतिक फायदे के लिए चली जाती है.बिहार के सरकारी स्कूलों की विधि-व्यवस्था के लिये नेता और अधिकारी जिम्मेवार है पर सारा दोष शिक्षकों पर दिया जाता है.

(1) मध्यान भोजन से लेकर प्रयोगशाला के सामान तक हर जगह अधिकारीयों की रिश्वतखोरी है.

(2) बेवजह के कार्यों में शिक्षकों को लगाकर पढ़ाई को चौपट कर दिये है.
(3) कोई भी नेता या अधिकारी अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में नहीं पढ़ाता है.क्योंकि उन्हें पता है सरकारी स्कूल पढ़ने/पढ़ाने का नहीं बल्कि राजनीति की रोटी सेंकने का अड्डा है.
(4) समय से वेतन नहीं और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा चाहिये.अगर आपके बच्चे 'हीरे' है तो क्या हमारे बच्चे 'कीड़े' है?शर्म करो.
(5) नियमित और नियोजित मास्टर.क्या है ये?समान काम के लिए समान वेतनमान दो.फिर गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की बात करें.

तमाम समस्याओं के बाद भी हम नियोजित शिक्षक गुणवत्तापूर्ण भोजन (MDM) और शिक्षा देते है.नेताओं और अधिकारीयों की तरह हमलोग "गिरे इंसान" नहीं है.

आपलोग तो अन्याय के खिलाफ आवाज उठाने वालों को प्रताड़ित करते है.झूठे आरोप लगा कर जेल भेजते है और साइबर क्राइम केस की धमकी देते है.
अगर आपलोग जैसे दमनकारी दमन का रास्ता नही छोड़े तो हम जैसे क्रांतिकारी क्रांति का रास्ता क्यों छोड़े?

सरफ़रोशी की तमन्ना, अब हमारे दिल में है। 

देखना है ज़ोर कितना, बाज़ु-ए-कातिल में है?

जय भारत,जय बिहार,जय शिक्षक.

--------------------------------------------------------------------------------
सभी शिक्षक मित्रों से अनुरोध है की मेरे What’s app नंबर 9708200702 पर अपना नाम,स्कूल का नाम और जिला मैसेज करे.इसकी जरुरत पड़ने वाली है.इसे अतिआवश्यक समझा जाये.
--------------------------------------------------------------------------------
आशुतोष 
+2 शिक्षक 
प्रोजेक्ट कन्या +2 विद्यालय कुमारखंड,मधेपुरा (बिहार)
Mobile नंबर 7870900690
What’s app नंबर 9708200702

I Support Teachersपेज शिक्षकों को समर्पित है.शिक्षक समाज और राष्ट्र के निर्माता होते है.सभी शिक्षकों को संगठित और एकजुट करने के लिये यह पेज बनाया गया है.

कृपया इस पेज को लाइक करे.
(1) सबसे पहले I Support Teachers के इस लिंक पर क्लीक करे ,यह पेज खुल जायेगा
(2) उसके बाद इस पेज के LIKE पर क्लीक करे.

पोस्ट को शेयर/फॉरवर्ड करके अपनों तक जानकारी पहुँचावे 

अपना बहुमूल्य सुझाव भी दें और
शिक्षक बंधू friend request भेजे Ashutosh Ashutosh

हमसे जुड़े,शिक्षकों के पत्रकार पेज से जुड़े और LIKE करे



Saturday, September 3, 2016

सोशल मीडिया के प्रभाव से डरे केदार पाण्डेय

सोशल मीडिया के प्रभाव से डरे केदार पाण्डेय,दिये साइबर क्राइम केस की धमकी........
नमस्कार.काफी दिनों बाद फेसबुक पर माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष श्री केदार नाथ पाण्डेय ऑनलाइन मिले.इन्होंने सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी के खिलाफ एक चेतावनी भरा पोस्ट किया है.जिसमें कहा गया है कि उनके खिलाफ फेसबुक,व्हाट्स एप पर शिक्षकों का समूह अमर्यादित टिप्पणी करते है.वे इसके खिलाफ पुलिस में साइबर क्राइम का केस दर्ज करायेंगे.
(माध्यमिक शिक्षक संघ ने दिया शिक्षकों को धोखा,बेनतीजा तोड़ा अनिश्चितकालीन धरना........यह इसी पोस्ट का प्रभाव है.)

लगता है केदार बाबू नीतीश बाबू के चैम्बर से बाहर नहीं निकलते है.सुप्रीम कोर्ट का एक आदेश है जिसमे साफ़-साफ़ कहा गया है कि विभिन्न सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर सरकारी बाबुओं के खिलाफ गुस्सा जाहिर या उन्हें कोसना कोई अपराध नहीं है। 
मैंने इनसे पूछा आप काम कम और नौटंकी ज्यादा करते है.जब तक आप नियोजित शिक्षकों के लिए समान काम के लिए समान वेतनमान के लिए कठोर प्रयास नहीं करेंगे तब तक हमलोग आपका पीछा करते रहेंगे.
पाण्डेय जी मर्यादा का पाठ पढ़ाने लगे.मैंने सीधा सवाल किया आपने नियोजित शिक्षकों के लिए क्या किया है?हर बार बिना मांग माने हड़ताल बीच में ही तोड़ देते है.क्यों?उन्होंने कोई जबाब नहीं दिया.क्या ऐसे लोगों को दलालकहना गलत है.

मैं Ashutosh Amit
+2 शिक्षक 
प्रोजेक्ट कन्या +2 विद्यालय कुमारखंड,मधेपुरा (बिहार)
Mobile नंबर 7870900690
What’s app नंबर 9708200702
केदार बाबू से सीधे बात करने को तैयार हूँ.आप साइबर क्राइम का मामला उठा सकते है.............

सरफ़रोशी की तमन्ना, अब हमारे दिल में है। 
देखना है ज़ोर कितना, बाज़ु-ए-कातिल में है?

जय भारत,जय बिहार,जय शिक्षक.
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सभी शिक्षक मित्रों से अनुरोध है की मेरे What’s app नंबर 9708200702 पर अपना नाम,स्कूल का नाम और जिला मैसेज करे.इसकी जरुरत पड़ने वाली है.इसे अतिआवश्यक समझा जाये.
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------